Sonu Nigam

"Do Ka Chaar"

[Chorus]
दो का चार तेरे लिए सोलह
तू जरदे की हिचकी
गुलकंद का तोला
तू मीठा पान
मैं कत्था कोरिया
देखा जो तुझको
मेरा दिल ये बोला

[Verse]
तू राज दुलारी
मैं शंभू भोला
तू मन मोहिनी
मेरा बैरागी चोला
तू तेज़ चिंगारी
मैं चरस का झोला
तू मीठी रूहफज़ा
मैं बर्फ का गोला
उड़ती है खुशबू किमामी
होता नशा जाफरानी
मैं बेतोड़ दर्द की कहानी
तू ही तो है मेरा मलहम यूनानी

[Chorus]
दो का चार तेरे लिए गल्ला
तू ही तो अल्लाह तू ही मोहल्ला
दो का चार तेरे लिए सोलह
देखा जो तुझको मेरा दिल ये बोला
हाय

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z #
Copyright © 2018 Bee Lyrics.Net