Bohemia

"Dua Karo (From ”Street Dancer 3D”)"

[Verse 1: Arijit Singh]
सारा जग घूमेया मैं, सारे रस्ते ढूँढेया मैं
अपने घर का पता जाने क्यूँ भूलेया मैं?
इस मोड़ से मुड़ गया मैं, औरों से क्यूँ जुड़ गया मैं?
अपनों से ही ख़ता जाने क्यूँ कर गया मैं
माफ़ी मिल जाए मुझे
आँसू थम जाए मेरे
बात ये सुन ले वो खुदा

[Chorus: Arijit Singh]
ਕਿ ਅੱਜ ਕੋਈ ਦੁਆ ਕਰੋ ਮੇਰੇ ਲਈ
ਕਿ ਅੱਜ ਕੋਈ ਦੁਆ ਕਰੋ ਮੇਰੇ ਲਈ
ਕਿ ਅੱਜ ਕੋਈ ਦੁਆ ਕਰੋ, ਕੋਈ ਦੁਆ ਕਰੋ
ਕੋਈ ਦੁਆ ਕਰੋ ਮੇਰੇ ਲਈ
ਕਿ ਅੱਜ ਕੋਈ ਦੁਆ ਕਰੋ ਮੇਰੇ ਲਈ
ਕਿ ਅੱਜ ਕੋਈ ਦੁਆ ਕਰੋ ਮੇਰੇ ਲਈ
ਕਿ ਅੱਜ ਇਸ ਰਾਤ ਕੀ ਕੋਈ ਸੁਬਹ ਕਰੋ
ਕੋਈ ਸੁਬਹ ਕਰੋ ਮੇਰੇ ਲਈ

[Verse 2: Bohemia]
Yeah, uh!
हाँ, तू मुझे रोने दे
सारी रात तक़लीफ़ मुझे होने दे
मेरा चैन-ओ-क़रार मुझे खोने दे
बेचैन मैं रहूँ, सारी दुनिया को चैन से सोने दे
मैंने क्या किया?
अपनों के साथ मैंने क्या किया?
मैंने धोखा सबको ही है दिया
अपनों को हार के मैं जिया, तो क्या जिया?
किस काम की है जीत? बस नाम की है जीत
नशा-जाम भी है जीत
साला हराम भी है जीत, साला हराम भी है जीत
A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z #
Copyright © 2018 Bee Lyrics.Net